केंद्र सरकार ने सभी राज्यों को पत्र लिखकर कोरोना वैक्सीनेशन में तेजी लाने का निर्देश दिया है. साथ ही राज्यों से ये भी कहा है कि वो सभी कार्यालयों (चाहे वो प्राइवेट हों या सरकारी) में कोरोना की वैक्सीनेशन कर दे.

11 अप्रैल से सभी ऑफिसों में लगवाई जाए कोरोना वैक्सीन, केंद्र ने राज्‍यों को लिखा पत्र

नई दिल्ली: केंद्र सरकार ने सभी राज्यों को पत्र लिखकर कोरोना वैक्सीनेशन में तेजी लाने का निर्देश दिया है. साथ ही राज्यों से ये भी कहा है कि वो सभी कार्यालयों (चाहे वो प्राइवेट हों या सरकारी) में कोरोना की वैक्सीनेशन कर दे. हालांकि उम्र की सीमा 45 वर्ष की ही रहेगी, लेकिन अब वैक्सीनेशन में तेजी आने की उम्मीद है. सरकार के आदेश के मुताबिक हर वैक्सीनेशन सेंटर पर दिन में कम से कम 100 लोगों को वैक्सीन लगाई जाए. 

केंद्र सरकार के इस आदेश से उन कंपनियों को भी सहूलियत होगी, जिन्होंने अपने कर्मचारियों के लिए मुफ्त वैक्सीनेशन की बात कही थी. अब ऐसी कंपनियां ही नहीं, बल्कि सभी कंपनियों में 11 अप्रैल से कोरोना का वैक्सीनेशन शुरू हो जाएगा. सरकार ने कहा कि कार्यालय चाहे सरकारी हो, या निजी, 45 वर्ष की उम्र से अधिक के हर व्यक्ति के लिए कोरोना की वैक्सीन उपलब्ध कराई जाएगी.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार को कहा कि कोविड-19 रोधी टीकाकरण में अमेरिका को पीछे छोड़ते हुए भारत दुनिया में सबसे तेज टीकाकरण वाला देश बन गया है. भारत में रोजाना औसतन 30,93,861 खुराकें दी जा रही हैं. देश में अब तक कोविड-19 टीके की 8.70 करोड़ से अधिक खुराकें दी जा चुकी हैं. 

सुबह सात बजे तक की अनंतिम रिपोर्ट के मुताबिक कुल 13,32,130 सत्रों में टीके की 8,70,77,474 खुराकें दी जा चुकी हैं. इनमें 89,63,724 स्वास्थ्यकर्मियों कोविड-19 टीके की पहली खुराक जबकि 53,94,913 स्वास्थ्यकर्मियों को दूसरी खुराक दी गयी हैं. वहीं, अग्रिम मोर्चे के 97,36,629 कर्मियों को पहली खुराक और 43,12,826 कर्मियों को दूसरी खुराक दी जा चुकी है. इसके अलावा 60 साल से ज्यादा उम्र के 3,53,75,953 लोगों को पहली खुराक और इसी आयुवर्ग के 10,00,787 लोगों को दूसरी खुराक दी गयी हैं. वहीं 45 साल से 60 साल के बीच के 2,18,60,709 लोगों को पहली खुराक और 4,31,933 लोगों को दूसरी खुराक दी गयी है. पिछले 24 घंटे में 33 लाख से ज्यादा कोविड-19 रोधी टीके की खुराकें दी गयी. देश में टीकाकरण अभियान के 81वें दिन (छह अप्रैल) को 33,37,601 लोगों को खुराकें दी गयी. 

भारत में आए दिन कोरोना (Coronavirus) की रफ्तार तेज़ी से बढ़ती जा रही है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में देशभर में 1.15 लाख कोरोना (Coronavirus) के नए मामले सामने आए हैं, जबकि इस दौरान 630 लोगों की जान गई. इससे पहले सोमवार यानी 5 अप्रैल को कोरोना (Coronavirus) के 1.03 लाख मामले सामने आए थे. पिछले 24 घंटे के अंदर आए नए मामलों के साथ ही देश में कोरोना (Coronavirus) के कुल केस अब 12,799,746 हो गए हैं, जबकि सक्रिय मामलों की तादाद 800,000 के पार हो चुकी है. अब एक्टिव केस मुल्क में 843,779 है.


ये भी पढ़ें: कोरोना: Chhattisgarh की राजधानी Raipur में 10 दिन के Lockdown का ऐलान, जानें क्या खुलेगा और क्या रहेगा बंद

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय (Union Health Ministry) ने कोरोना वायरस की टेस्टिंग में बदलाव किया है और सैंपल टेस्ट फॉर्म में नया कॉलम जोड़ा है. इस कॉलम में कोरोना टेस्टिंग (Corona Testing) के दौरान लोगों को वैक्सीन को लेकर जानकारी देनी होगी और बताना होगा कि उन्हें अब तक वैक्सीन लगी है या नहीं.