माइक्रोसॉफ्ट के सह-संस्थापक बिल गेट्स (Bill Gates) ने कहा है कि कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) का फॉर्मूला विकासशील देशों को नहीं दिया जाना चाहिए.

Bill Gates के बयान से भारत को झटका, कहा- गरीब देशों को नहीं दिया जाना चाहिए Corona Vaccine का फॉर्मूला

न्यूयॉर्क: भारत समेत दुनियाभर के कई देशों में कोरोना वायरस का संक्रमण बढ़ता जा रहा है और इससे बचाव के लिए तेजी से वैक्सीन लगाने पर जोर दिया जा रहा है. लेकिन इस बीच माइक्रोसॉफ्ट के सह-संस्थापक बिल गेट्स (Bill Gates) ने कहा है कि कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) का फॉर्मूला विकासशील देशों को नहीं दिया जाना चाहिए.

बिल गेट्स (Bill Gates) ने स्काई न्यूज को दिए इंटरव्यू में कहा, 'कोविड वैक्सीन का फॉर्मूला विकासशील देशों को नहीं दिया जाना चाहिए. इस वजह से विकासशील और गरीब देशों को कुछ समय इंतजार करना पड़ सकता है, लेकिन उन्हें वैक्सीन का फॉर्मूला नहीं मिलना चाहिए.

इंटरव्यू में जब बिल गेट्स (Bill Gates) से पूछा गया कि क्या कोरोना की तुरंत और प्रभावपूर्ण तरीके से रोकथाम करने के लिए विकासशील और गरीब देशों को वैक्सीन का फॉर्मूला दिए जाना चाहिए? इस पर उन्होंने कहा, 'नहीं.'

ये भी पढ़ें- 1 मई से आपकी जिंदगी में आएंगे ये बदलाव, जानिए आप पर क्या होगा असर?

बिल गेट्स (Bill Gates) ने कहा, 'भले ही दुनिया में वैक्सीन बनाने वाली बहुत सी फैक्टरियां हैं और लोग टीके की सुरक्षा को लेकर बहुत ही गंभीर हैं. फिर भी दवा का फार्मूला नहीं दिया जाना चाहिए.'

उन्होंने कहा, 'यूएस की जॉनसन एंड जॉनसन फैक्ट्री और भारत की एक फैक्टरी में अंतर होता है. वैक्सीन को हम अपने पैसे और अपनी विशेषज्ञता से बनाते हैं. वैक्सीन फॉर्मूला किसी रेसिपी की तरह नहीं है कि इसे किसी के भी साथ शेयर किया जा सके. इसके लिए बहुत अधिक सावधानी रखनी होती है, टेस्टिंग करनी होती है, ट्रायल्स करने होते हैं. वैक्सीन बनने के दौरान की हर चीज बहुत ही सावधानी से देखनी होती है.'

लाइव टीवी

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link