राहुल ने कहा कि, जब प्रवासी मजदूर बंगाल में अपने घर वापस लौटना चाहते थे तब सोनार बांग्ला कहने वाला आदमी ने लोगों को मरने के लिए छोड़ दिया. जब पूरा देश भूख से मर रहा है तो पीएम मोदी ने अपने पांच-दस दोस्तों के टैक्स माफ किए हैं.

1. बंगाल: पहली रैली में जमकर बरसे राहुल गांधी, कहा- RSS-BJP ने देश को गिफ्ट में 'नफरत' दिया

Feedback

बंगाल में चार चरण का मतदान बीत जाने के बाद 5वें चरण से पहले कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी रैली करने पहुंचे. रैली के दौरान उन्होंने बीजेपी और टीएमसी के खिलाफ निशाना साधा. उन्होंने कहा कि अगर बंगाल बंट जाता है तो इसमें बंगाली लोगों का नुकसान होगा. उन्होंने कहा देखिए यूपी में क्या हुआ. जाइए मजा देखिए वहां पर, लोग कोरोना से मर रहे है. अस्पताल शवों से भरे पड़े हैं. सीएम के पास कोई सेंस नहीं है.

राहुल ने कहा कि, जब प्रवासी मजदूर बंगाल में अपने घर वापस लौटना चाहते थे तब  सोनार बांग्ला कहने वाला आदमी ने लोगों को मरने के लिए छोड़ दिया. जब पूरा देश भूख से मर रहा है तो पीएम मोदी ने अपने पांच-दस दोस्तों के टैक्स माफ किए हैं. ये जहां भी जाते हैं गोल्डन तमिलनाडु, सोनार बांग्ला कहते हैं. आप लोगों ने क्या किया है? आपने कितने युवाओं को सरकारी नौकरी दी है? राहुल गांधी ने कहा कि मुझसे जितने भी विदेशी लोग मिले, उन्होंने पूछा कि भारत में इतनी नफरत कैसे फैल गई?  लोगों में इतना गुस्सा क्यों है? ये मोदी और आरएसएस का गिफ्ट है.

ममता पर भी साधा निशाना

राहुल गांधी ने कहा कि  आप (वोटर) ने ममता बनर्जी को राज्य चलाने की जिम्मेदारी दी लेकिन उन्होंने आप लोगों के लिए क्या किया? क्या आप लोग कह सकते हैं कि ममता बनर्जी ने आप लोगों के लिए काम किया? रोजगार, कॉलेज, सड़क संबंधी काम हुए? क्या कांग्रेस ने कभी बीजेपी से समझौता किया? क्या हमने कभी गठबंधन किया? क्या ममता बनर्जी ने नहीं किया?

राहुल गांधी ने कहा कि ध्यान रखिए हमारी वैचारिक लड़ाई बीजेपी और आरएसएस से है. यह केवल राजनीतिक नहीं है. उन लोगों ने हमारे सबसे बड़े नेता की को मारा है. हमारे गुरु की हत्या की गई. गांधी जी की.  हम इसके खिलाफ खड़े हुए और हमेशा खड़े होंगे. ममता की लड़ाई राजनीतिक लड़ाई है.हम मर जाएंगे लेकिन बीजेपी के साथ खड़े नहीं होंगे. इसलिए पीएम मोदी कांग्रेस मुक्त भारत की बात करते हैं. उन्होंने कभी टीएमसी मुक्त भारत की बात नहीं की. वह टीएमसी के साथ ठीक हैं. उनकी लड़ाई कांग्रेस के साथ है. उन्हें पता है कि राहुल गांधी कभी पीछे नहीं हटेगा. उन्हें पता है कि राहुल गांधी को डर नहीं लगता है. दरअसल, वो राहुल गांधी से डरते हैं.